भाई राजीव दीक्षित जी के व्याख्यान (आडियो)

इस वेबसाईट पर भाई राजीव दीक्षित जी के व्याख्यान को श्रेणीबद्ध करके विजिटरो की सुविधा के लिए प्रस्तुत किया जा रहा है । आप से अनुरोध है कि इन आडियो फाइलो को डाउनलोड कर ब्लू टूथ के माध्यम से अधिकाधिक व्यक्तियों के मोबाइल तक पहुंचाये । यदि आप के पास कोई आडियो उपलब्ध है तो कृपया हमे मेल द्वारा सूचित करे जिससे आपके पास मौजूद महत्वपूर्ण व्याख्यानों का लाभ सभी ले सके ।

-------------------------------------------------------------------------------------------------

भारत का स्वर्णिम अतीत

इस व्याख्यान में आदरणीय राजीव जी ने भारत के 10वी से 18वी शताब्दी के मध्य के स्वर्णिम अतीत की व्याख्या अपने सम्पूर्ण भारत भ्रमण के अनुभव एवं पूरे विश्व के कई महान इतिहासकार एवं विद्वानों के कथनों और तथ्यों के आधार पर की है जिसे उन्होने इस इच्छा के साथ प्रस्तुत किया है की हम फिर से अपने अतीत से सीख लेकर अपने देश का भविष्य उज्ज्वल करें| इस फाइल को डाउनलोड करे

     -------------------------------------------------------------------------------------------------

मौत का व्यापार

आदरणीय राजीव भाई ने इस व्याख्यान में अपने अध्ययन एवं तर्कों से प्रतिबंधित एवं गैर ज़रूरी ऐलोपेथिक दवाओं के कुचक्र, अनावश्यक दवाओं एवं ऑपरेशनों के होने वाले षडयंत्रों, उपचार के नाम पर होने वाले अत्याचार और इससे जुड़े गंदे व्यापार पर प्रकाश डाला है जिसे उन्होने मौत के व्यापार की संज्ञा दी है जो पूरे देश में धड़ल्ले से चल रहा है| इस फाइल को डाउनलोड करे

-------------------------------------------------------------------------------------------------

भारत की विश्व को देन

इस व्याख्यान में राजीव जी ने हमें बताया है की दुनिया को भारत ने अब तक क्या क्या दिया है, ज्ञान के स्तर पर हम ने दुनिया को क्या-क्या दिया है, नीतियों के स्तर पर हम ने दुनिया को क्या-क्या दिया है, व्यवस्थाओ के स्तर पर हम ने दुनिया को क्या-क्या दिया है ऐसे ही कुछ विषयों पर उन्होने प्रकाश डाला है जिसे सुन कर निश्चित ही हम गौरवांकित महसूस करेंगे | इस फाइल को डाउनलोड करे

     -------------------------------------------------------------------------------------------------

व्यवस्था परिवर्तन

इस व्याख्यान में राजीव जी ने यह बताया है की कैसे हमारा भारत स्वाभिमान का आंदोलन सफल होगा और कैसे भारत का भाग्योदय होगा| विश्व के कई देशों का उदाहरण देते हुए उन्होने बताया है की कैसे हम इस आंदोलन में सफल होंगे| इस व्याख्यान के माध्यम से राजीव भाई ने आंदोलन को लेकर समय-समय पर हमारे मन में उठने वाले प्रश्नों का भी जवाब दिया है | इस फाइल को डाउनलोड करे

-------------------------------------------------------------------------------------------------

भारत के सामाजिक एवं चारित्रिक पतन का षड्यंत्र

इस व्याख्यान में आदरणीय राजीव भाई ने इस बात का खुलासा किया है की कैसे हमारे देश के लोगों का नैतिक रूप से, चारित्रिक रूप से एवं सामाजिक रूप से पतन करने का षड्यंत्र पूरे देश में चल रहा है| उन्होने इन षड्यंत्रों से बचने के एवं इन्हे निष्क्रिय करने के उपाय भी हमें सुझाएँ है जिन्हे अगर हम समझे और अपने जीवन में उतारें तो हम यह सब होने से रोक सकते है | इस फाइल को डाउनलोड करे

     -------------------------------------------------------------------------------------------------

भारत में गुलामी की निशानिया

इस व्याख्यान में राजीव भाई ने भारत में बची हुई गुलामी की निशानियों, अंग्रेजों, अंग्रेज़ियत और विदेशीयत की निशानियों के बारे में जानकारी दी है और अनुरोध किया है की भारत में जो आज भी अंग्रेजों की कई मूर्तियाँ और इमारतें सम्मान के साथ खड़ी है, उनके नाम पर कई नगर, मार्ग, भवन, रेल्वे स्टेशन है जो हमारे देश के सम्मान के खिलाफ है और उन्हे हटाना चाहिए | इस फाइल को डाउनलोड करे

-------------------------------------------------------------------------------------------------

अँग्रेजी भाषा की गुलामी

इस व्याख्यान में आदरणीय राजीव भाई ने हमारे देश की न दिखने वाली सबसे बड़ी परेशानी “अँग्रेजी भाषा की गुलामी” जिससे हम अभी तक आज़ाद नहीं हो पाये है से सभी को अवगत कराया है| उन्होने विश्व के सभी देशों का उदाहरण देते हुए समझाया है की कैसे सभी देश शिक्षा से लेकर क़ानून, चिकित्सा एवं अपने सभी क्षेत्रों में राष्ट्रभाषा और मातृभाषा का उपयोग करते है | इस फाइल को डाउनलोड करे

     -------------------------------------------------------------------------------------------------

अंतराष्ट्रीय संधियो में फंसा भारत

इस व्याख्यान में राजीव जी ने बताया है हमारे देश को पिछले 250-300 वर्षों में जितना भी आर्थिक, सांस्कृतिक और सामाजिक नुकसान और अपमान सहना पड़ा है उसमे सबसे बड़ा हाथ ऐसी अंतरराष्ट्रीय संधियों का है जो बिना सोचे-समझे, विदेशियों की चाल में आकर या मजबूरी में की गयी थी| आज भी हमारा देश ऐसी कई संधियों में फंसा हुआ है जिससे अब हमें अपने देश को बचाना है| इस फाइल को डाउनलोड करे

-------------------------------------------------------------------------------------------------

विष मुक्त खेती

आदरणीय राजीव भाई ने इस व्याख्यान में बताया है की कैसे हमने अपने देश के सबसे उच्च माने जाने वाले कार्य “कृषि” को सबसे निम्न मान लिया है और आज उसमे भी अपनी सर्वश्रेष्ठ प्राचीन तकनीकों को छोड़ कर विदेशी विषयुक्त खेती कर रहे है| इस सब से कैसे बाहर निकला जाये और अपने देश, स्वास्थ्य और भविष्य को कैसे बचाया जाये इसके भी उपाय बताए है| इस फाइल को डाउनलोड करे

     -------------------------------------------------------------------------------------------------

ऐतिहासिक भूले

इस व्याख्यान में राजीव जी ने यह याद दिलाया है की भारत के आज़ाद होने के पहले और बाद में भी हम से ऐसी कौन-कौन सी बड़ी भूलें हुई है जिसकी सज़ा अभी तक हमारा देश और समाज पा रहा है| भारत स्वाभिमान को आगे बढ़ाते हुए हमें ऐसी कौन-कौन सी बातों का ध्यान रखना है जिससे हम अपने पूर्वजों के द्वारा की गयी कुछ गलतियों को फिर से न दोहरा सकें| इस फाइल को डाउनलोड करे